ब्रेकिंग न्यूज़ – सिंगरौली युवा कांग्रेस सिंगरौली के पूर्व लोकसभा अध्यक्ष भास्कर मिश्रा को काँग्रेस पार्टी ने किया निलंबित.बडे नेताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी का लगाया आरोप

Spread the love

“सिंगरौली की आवाज़ न्यूज” (दिनेश तिवारी) 12/07/2018

बड़ी खबर – सिंगरौली (वेबडेस्क)

युवा कांग्रेस सिंगरौली के पूर्व अध्यक्ष भास्कर मिश्रा को काँग्रेस पार्टी ने किया निलंबित.बडे नेताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी का लगाया आरोप

काँग्रेस पार्टी के नेताओं का कहना है कि अपने ही पार्टी के बड़े नेताओं के खिलाफ हमेशा बगावती सुर अपनाने वाले एवं दिनाँक 2 जुलाई 2018 को सर्किट हाउस माजन मोड़ में जिला काँग्रेस कमेटी सिंगरौली की बैठक में काँग्रेस के बड़े नेताओं के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किये जाने के कारण यूथ काँग्रेस के पूर्व लोकसभा अध्यक्ष भास्कर मिश्रा को काँग्रेस पार्टी ने 6 साल के लिए पार्टी से निलंबित कर उनकी प्राथमिक सदस्यता को निरस्त कर दिया है।

जिला काँग्रेस की बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि पार्टी के बड़े नेताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने एवं हमेशा पार्टी को कटघरे में खड़ा करने वाले व्यक्ति भास्कर मिश्रा को पार्टी से तत्काल बाहर किया जाय।

कांग्रेसियों को उक्त जानकारी जिला काँग्रेस कमेटी के महामन्त्री शंकर शुक्ला ने दी और बताया कि जिलाध्यक्ष तिलकराज सिंह जी के मार्गदर्शन में जिला काँग्रेस के निर्णय अनुसार भास्कर मिश्रा को 6 वर्ष के लिए आचरण में सुधार करने हेतु पार्टी ने निलंबित कर दिया है।

जिसके उपरांत हमने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष भास्कर मिश्रा से इस निलंबन पर उनका पक्ष मांगा जहां भास्कर मिश्रा का कहना है कि उन्होने पार्टी को अपने मां समान माना है पार्टी के जिला कमेटी में कुछ ऐसे लोग हैं जो कभी पार्टी को अनुशासित और मजबूत नहीं होने देना चाहते और यह भी कहा कि जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष तिलकराज सिंह को ऐसे नेता गुमराह कर पार्टी में जो चाहे वह करवा रहे हैं पार्टी के नेताओं पर आरोप लगाया कि जिस तरह से उनको एक बैठक सीधे निलंबित किया गया है वह कांग्रेस पार्टी के नियम का उल्लंघन करता है पार्टी के नियमानुसार कम से कम 2 से 3 बार सूचना या नोटिस देने के बाद ही ऐसे फैसले किए जाते हैं…. और बताया कि निलंबन मात्र 2, 4 माह के लिए होता है ना कि 6 वर्ष के लिए.. इतनी अवधी निष्काषित किया जाता है ना कि निलंबन

जिलाध्यक्ष को गुमराह कर लिए जाते हैं फैसले.. भास्कर मिश्रा का आरोप है कि जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष तिलकराज सिंह जो कि अधिकतम जिले से बाहर रहते हैं कुछ नेताओं के द्वारा उनको गुमराह कर कई फैसले लिए जाते हैं जो पार्टी के वर्चस्व को समाप्त कर रहे हैं उनके कहने पर जिलाध्यक्ष कोई भी फैसला आसानी से लेते हैं पार्टी से उनका निलंबन एक बड़ा षड्यंत्र है जो सोची समझी साजिश है

भास्कर मिश्रा का कहना है कि जनता के लिए लड़ने वाले नेताओं को बनाया जाता है साजिश का शिकार बताया कि पार्टी में 2-4 की संख्या में ऐसे नेता हैं जो पार्टी को ही अंदर से खोखला करने का कार्य कर रहे हैं और अपनी मनमानी से पार्टी की छवि खराब कर रहे हैं..

भास्कर मिश्रा ने बताया कि इस फैसले के बाद जब मैंने जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष तिलकराज सिंह से इस बारे में जानकारी लेनी चाही तो वह फोन भी रिसीव नही कर रहे..अपने ऊपर लगाए गए सारे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि मेरा निलंबन पार्टी के कुछ नेताओं की सोची समझी साजिश है और षड़यंत्र है

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *