कांंग्रेस और भाजपा के बीच मिलीभगत, दोनों ने जनता लूटा : आप

Spread the love

कांंग्रेस और भाजपा के बीच मिलीभगत, दोनों ने जनता को बरसों तक लूटा : आप

*सत्ता नहीं व्यवस्था परिवर्तन की लड़ाई लड़ रही है आम आदमी पार्टी 

*सिगरौली, सीधी।

आम आदमी पार्टी  देवसर में डोर टू डोर कैम्पेन के दौरान कहा कि पार्टी पूरे प्रदेश की 230 सीटों पर पूरी मजबूती से विधानसभा चुनाव लड़ेगी और लूट और भ्रष्टाचार की सरकार को उखाड़कर आम आदमी का राज स्थापित करेगी। भाजपा और कांग्रेस के बीच मिलीभगत है, ये दोनों ही पार्टियां अब तक जनता को कभी झूठे वादे करके तो कभी धर्म जाति के नाम पर लड़ाकर ठगती रही हैं।
आम आदमी पार्टी के लोकसभा मिडिया प्रभारी व कैम्पैनिगं मैनेजर *विवेक कुमार सोनी ने कहा कि भाजपा सरकार ने पिछले 14 सालों में प्रदेश को लूट और भ्रष्टाचार दिया है। लोग भाजपा सरकार से नाराज हैं और कांग्रेस को भी विकल्प के रूप में नहीं देखना चाहते हैं, इसलिए प्रदेश में स्वच्छ और ईमानदार सरकार देना आम आदमी पार्टी की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों को उनकी फसल का उचित दाम नहीं मिल रहा है। कर्ज के कारण मध्य प्रदेश में 5 किसान रोज आत्महत्या कर रहे हैं। मध्य प्रदेश में ऊपर से नीचे तक भ्रष्टाचार फैला हुआ है। मध्य प्रदेश में बिजली सबसे महंगी है। जबकि यहां बिजली जरूरत से ज्यादा है।
आम आदमीं पार्टी के लोकसभा मिडिया प्रभारी, व,कैम्पैनिग मैनेजर विवेक कुमार सोनी ने कहा कि आम आदमी पार्टी व्यवस्था की परिवर्तन के लिए चुनाव मैदान में आई है। आम आदमी पार्टी को सत्ता का मोह नहीं है। व्यवस्था परिवर्तन के लिए जरूरी है कि आम आदमी की रोजी, रोटी, शिक्षा स्वास्थ्य, बिजली, आदि की व्यवस्था की जाए। आम आदमी पार्टी के प्राथमिक लक्ष्यों में यह शामिल है। हम यह मानते हैं कि जब मानव संसाधन का विकास होगा, तो देश का भी विकास होगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में शिक्षा का बजट 24 प्रतिशत है। दिल्ली सरकार अगर एक रुपए कमाती है, तो उसमें से 24 पैसे शिक्षा के लिए खर्च करती है। हम चाहते हैं कि यह व्यवस्था देश के हर हिस्से में हो। इसके विपरीत मध्य प्रदेश की बात करें, तो हिंदुस्तान के सभी राज्यों में मध्य प्रदेश 28वें स्थान पर है। शिवराज सरकार ने 25 हजार स्कूल बंद कर दिए। यह शर्म की बात है कि मध्य प्रदेश में 46 प्रतिशत बच्चे कुपोषित हैं। दिल्ली सरकार स्वास्थ्य पर 12 प्रतिशत खर्च करती है। दिल्ली के मोहल्ला क्लिनिक को दुनिया देख रही है।
*सरकारों के बीच के फर्क को बताएंगे और जनता कह रही है अब बस*
आम आदमी पार्टी की च पार्टी ने *सरकार-सरकार में फर्क होता है* और *अब बस* कैंपेन जारी किए हैं। यह दोनों कैंपेन सोशल मीडिया के साथ-साथ जमीन पर *डोर-टू-डोर कैंपेन* के दौरान जनता तक ले जाए जाएंगे। भाजपा मध्य प्रदेश में बता रही है कि सरकार-सरकार में फर्क होता है, और इसके लिए वह 2003 की कांग्रेस सरकार से अपने 15 साल के कामकाज की तुलना कर रही है। हम भी मानते हैं कि सरकार-सरकार में फर्क होता है, लेकिन असली फर्क क्या होता है, यह हम इस कैंपेन के जरिये बताएंगे और दिल्ली सरकार के महज तीन साल के कामकाज की तुलना शिवराज सरकार के 15 साल से करेंगे। दिलचस्प यह है कि दिल्ली में महज 3 साल में जो काम हुए हैं, वह भाजपा की 15 साल की सरकार पर भारी हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *