जय किसान ऋण माफी योजना के तहत  कोई भी पात्र किसान लाभ से वंचित न रहेः- डॉ. भार्गव

Spread the love

जय किसान ऋण माफी योजना के तहत  कोई भी पात्र किसान लाभ से वंचित न रहेः- डॉ. भार्गव

सिंगरौली की आवाज30 जनवरी 2019 – किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत कोई भी पात्र किसान योजना के लाभ से वंचित न रहें। सभी किसानों के आवेदन प्राप्त कर पोर्टल पर आललाइन निर्धारित समय पर अपलोड किया जाना सुनिश्चित। उक्त आशय का निर्देश कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान आयुक्त रीवा संभाग डॉ.अशोक कुमार भार्गव ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। इसके पूर्व कलेक्टर अनुराग चौधरी के द्वारा जिलें में प्रथम आगमन पर संभागायुक्त डॉ. भार्गव का स्वागत पुष्पगुच्छ भेट कर किया गया। समीक्षा बैठक के दौरान उपस्थित अधिकारियों का परिचय प्राप्त करने के पश्चात विभागवार अधिकारियों से योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी ली गई। आगे उन्होने ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री  के मंशानुसार एवं वचन पत्र के तहत अपने अपने विभागों के तहत जन कल्याणकारी योजनाओं का निर्धारित समयानुसार पात्र व्यक्तियों को शत प्रतिशत लाभ दिया जाय। एवं नागरिको की समस्याओं एवं शिकायतों का त्वारित गति से संतुष्टिकरण निराकरण कराये। आगे उन्होनें ने कहा कि फसल ऋण माफी योजना के तहत सूची में दर्ज किसानों द्वारा ऋण नही लिये जाने संबंधी षिकायतों को दृष्टिगत रखते हुयें प्राप्त शिकायतों का निराकरण करे। तथा जाॅच के दौरान जो भी दोषी व्यक्ति हो उसके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करे।

  नामांतरण बंटवारा ओला पाला से प्रभावित फसलो की लिए जानकारीः

सभागायुक्त डाॅ भार्गव ने जिलें में नामातरण, बटनवारा पट्टा वितरण के प्रगति की जानकारी के साथ साथ ओला, पाला से प्रभावित फसलो की जानकारी विकास खण्डवार ली गई। जिसके संबंध में कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा अवगत कराया गया कि जिले मे जहां नामातरण वंटवारा पट्टा कोई भी शेेष नही है। वही तीनो विकास खण्डो में अभियान चलाकर ओला, पाला से प्रभावित फसलों का सर्वे कार्य कराया जा रहा है।  सर्वे के दौरान वास्तविक क्षति जो हुई है। उसके प्रकरण तैयार कराये जा रहे है। शीघ्र किसानों की क्षतिग्रस्त फसलो की भरपाई कि जायेगी। वही राजस्व वसुली कि जानकारी के संबंध में कलेक्टर द्वारा बताया गया कि जिलें में राजस्व वसुली भी संतोष जनक है। तथा हमारा जिला जहा तीव्र गति से स्वास्थ्य, शिक्षा, के साथ साथ जन कल्याणकारी योजनाओं को प्राथमिकता के साथ पात्र व्यक्तियों को लाभ दिया जा रहा है। एवं हमारे जिलें में कोई भी हाईस्कूल एवं हायर सेकन्ड्री का परीक्षा देने वाले छात्र छत्रायें जमीन पर बैठकर परीक्षा नही देगे। इसके लिए सभी परीक्षा केन्द्रों में कुर्सी टेबल एवं विद्युत की व्यवस्था की गई है। वही कलेक्टर द्वारा जिले में धान खरीदी कि जानकारी से अवगत कराया गया। साथ ही जिलें में निर्माणाधीन गौड़ परियोजना के संबंध में अवगत कराया गया। साथ ही प्रधानमंत्री आवास शहरी एवं ग्रामीण तथा जिले में पेय जल कि स्थिति एवं डीएमएफ फण्ड से कराये गये कार्यो के बारे में अवगत कराया गया।

भू अर्जन होने वाले गावों की रजिस्ट्री पर रोकः-

समीक्षा बैठक के दौरान संभागायुक्त ने जिले विभिन्न उद्यौगिक कंम्पनियों सहित रेलवे हेतु अर्जन की गई भूमियों की जानकारी एवं की गई कार्यवाही कि जानकारी चाही गई। जिसके संबंध में कलेक्टर द्वारा अवगत कराया गया कि हमारे यहा औद्यौगिक कंम्पनियों सहित ललितपुर-सिंगरौली रेल मार्ग हेतु जो भी भूमि का अर्जन किया गया है। अर्जित भूमि का मेरे द्वारा पूर्व में ही रजिस्ट्री पर रोक लगा दी गई थी। आदेश के बाद यदि कोई रजिस्ट्री कि गई होगी तो उसकी जाॅच की कार्यवाही कराया जाकर संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही कि जायेगी। सर्वेक्षण का कार्य प्रगति पर है।  जिनके लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किये गये है।

परियोजनाओं  में स्थानीय लोगो को अधिक से अधिक मिले रोजगारः-

संभागायुक्त डॅा. भार्गव ने कहा कि मध्यप्रदेश शासन के मंशानुसार जिलें में संचालित कंम्पनियों में स्थानीय व्यक्तियों को अधिक से अधिक रोजगार उपलंब्ध कराया जाये। साथ ही जिलें में कार्यरत कंम्पनियों की जानकारी ली गई। कलेक्टर के द्वारा बड़ी कंम्पनियों की जानकारी देते हुये अवगत कराया गया कि एस्सार, रिलायंस पावर सहित बीजीआर. बी.पी.आर सिक्कल, सहित अन्य कंम्पनिया कार्यरत है। जिसके संबंध में डाॅ. भार्गव ने निर्देश दिये कि एक संप्ताह के अंदर कंम्पनियों से सूची प्राप्त करे कि कितने स्थानीय व्यक्तियों को कार्य दिया गया।

निर्वाचन संबंधी कार्यो को समय सीमा में करे पूर्णः-

संभागायुक्त डाॅ. भार्गव ने निर्वाचन संबंधी समस्त कार्यो को निर्धारित समय सीमा में निर्वाचन आयोग के निर्देशों का पालन करते हुयें पूर्ण करने का निर्देष दिया गया। इसके साथ ही 1 जनवरी 2019 की स्थिति में 18 वर्ष कि आयु पूर्ण कर चुके सभी मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज करने का निर्देष दिया गया। महिला बाल विकास अधिकारी सहित सीएमएचओ, एवं अन्य अधिकारियों को निर्देष दिया गया कि अपने अपने क्षेत्रों में जब भी भ्रमण पर जाये तो संस्थागत प्रसव के साथ-साथ बच्चे के जन्म के एक घण्टे बाद तत्काल माॅ का दूध पिलाने हेतु प्रेरित करे। इस दूध से होने वाले लाभ के बारे में भी बताये।  साथ मीजल्स रूबेला टीकाकरण की भी जानकारी ली गई तथा निर्देष दिये गये कि जिले का कोई भी बच्चा टीकाकरण से वंचित न रहे। अंत में संभागायुक्त ने जिलें में संचालित विभिन्न योजनाओं सहित राजस्व वसुली एवं किये जा रहे विकास कार्यो की सराहना करते हुयें अधिकारियो को निर्देष दिये कि शासन के वचन  पत्र को प्राथमिकता देते हुयें विधि विधान के तहत कार्य करे। एवं शासन द्वारा निर्धारित जन कल्याणकारी योजनाओं का शत प्रतिषत क्रियान्वन करे। कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी ने संभागायुक्त को आश्वस्त किया कि सभी विभाग शासन की मंशानुसार सभी योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वन करेगे। तथा पात्र हितग्राहियों को शासन की जन कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित कराया जायेगा।

बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रियंक मिश्रा, एसडीएम देवसर ऋतुराज, संयुक्त कलेक्टर सीताराम प्रधान, आयुक्त नगर निगम शिवेन्द्र सिंह, एसडीएम नागेश सिंह, एसपी मिश्रा, संजय जैन, जिला परिवहन अधिकारी एस.पी द्विवेदी,  अधीक्षण अभियंता एम.ई.बी जे.पी तिवारी, सहित जिला के अधिकारी उपस्थित रहे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *