जिला मुख्यालय से 90 किलोमीटर दूर चितरंगी तहसील के गांव मिसरगांव की जमीनी हकीकत

जिला मुख्यालय से 90 किलोमीटर दूर चितरंगी तहसील के गांव में मिसरगांव की जमीनी हकीकत

सिंगरौली की आवाज

जिला मुख्यालय से 90 किमी दूर चितरंगी तहसील के गांव मिसरगवां में विकास के कई काम अधूरे पड़े है सिंगरौली की आवाज न्यूज की टीम ने मौके पर जब जायजा लिया तब पता लगा की सरकार की योजनाएं धरातल पर उतर ही नही रही है ग्राम मिसरगवां में बांध, शौचालय , आवास , सहित कई कार्य फर्जी तरीके से हुए है जबकि सरपंच और सचिव की मनमानी का आलम ये है कि मनरेगा के काम मे भी फर्जी मस्टररोल बनाकर पैसे का आहरण कर लिया जाता है जबकि सरकार की रोजगार गारंटी योजना सरपंच और सचिव के लिए कमाई का जरिया बनकर रह गया है ग्राम मिसरगवां में जगह-जगह करोड़ो की लागत से तालाब बनाए गए हैं जो किसी काम के नही है जब भी ग्रामीणों द्वारा मामले को उठाया जाता है तो उनके ऊपर फर्जी मुकदमा दर्ज कर दिया जाता है,

वीडियो खबरें

फोटो