• नगर पालिक निगम सिंगरौली-वित्तिय वर्ष 2022-23 के अनुमानित बजट को मिली स्वीकृती
  • निगम की अनुमानित आय 337 करोड़ 36 लाख तथा अनुमानित व्यय 272 करोड़ 7 लाख
  • आत्म निर्भर मध्यप्रदेश की तर्ज पर अत्म निर्भर सिंगरौली के विकास के लिए बजट को किया गया तैयार
सिंगरौली 31 मार्च 2022/ नगर पालिक निगम सिंगरौली द्वारा वित्तिय वर्ष 2022-23 का बजट आत्म निर्भर मध्यप्रदेश की तर्ज पर आत्म निर्भर सिंगरौली के विकास हेतु तैयार किया गया है। निगम की अनुमानित आय 337 करोड़ 36 लाख एवं अनुमानित व्यय 272 करोड़ 7 लाख का कलेक्टर एवं प्रषासक नगर पालिक निगम सिंगरौली श्री राजीव रंजन मीना के समंक्ष स्वीकृती हेतु प्रस्तुत किया गया।विदित हो कि यह बजट तैयार करने के पूर्व कलेक्टर एवं प्रषासक श्री मीना के द्वारा 16 जनवरी 2021 को माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सिंगरौली के विकास का जो रोडमैप रखा गया था उसी को दृष्टिगत रखते हुये बजट तैयार करने के निर्देश दिये गये थे। वही सम्मानित जन प्रतिनिधियो आम नागरिको से चर्चा उपरान्त शहर के समंग्र विकास एवं कमजोर वर्गो के उत्थान हेतु प्रत्येक पहलु को मद्देनजर रखते हुये बजट तैयार किया गया है। बजट प्रस्तुत करने के प्रारंभ में नगर निगम के आयुक्त श्री आर.पी सिंह के द्वारा कलेक्टर एवं प्रषासक नगर निगम का स्वागत करते हुये आगामी वित्तिय वर्ष 2022-23 के अनुमति बजट में शहर के अधोसंरचना विकास हेतु तैयार की गई विस्तृत कार्य योजना के संबंध में अवगत कराया गया। तत्पश्चात नगर पालिक निगम सिंगरौली के उपायुक्त वित्त सत्यम मिश्रा के द्वारा मध्यप्रदेश नगर पालिक निगम अधिनियिम 1956 की धारा 97 के अनुसार वित्तिय वर्ष 2022-23 का प्रस्तावित आय एवं व्यय का बजट प्रस्तुत करते हुये अवगत कराया कि नगर पालिक निगम सिंगरौली द्वारा नगर निगम के सभी वार्डो में आरोपित सम्पत्ति कर समेकित कर नगरीय विकास उपकर एनसीएल एवं एनटीपीसी पर सम्पत्ति कर 1500.00 लाख समेकित कर 170.00 लाख नगरीय विकास उपकर 240.00 लाख कुल 1910.00 लाख आय अनुमानित की गई है। वही निगम के विभिन्न वार्डो तथा एनसीएल एनटीपीसी पर आरोपित कर से 9232.00 लाख राशि आय अनुमानित की गई है। वही प्रस्तावित विभिन्न आय मदो में प्राप्त होने वाली आमदनी को मद्देनजर रखते हुये प्रस्तवित व्यय का प्रावधान किया गया है। जिसमें स्थापना व्यय के अंतर्गत 9689.70 लाख प्रस्तावित किया गया है। उन्होने कहा कि नगर निगम द्वारा आगामी जन सख्या वृद्धि को दृष्टिगत रखते हुये बड़ते यातायात दबाव को कम करने के लिए माजन बगीचा से हर्रई तक वाईपास सड़क तथा बैढ़न हायरसेकण्ड्री स्कूल के सामने से जयंत बाईपास सड़क निर्माण, वार्डो में खेलने का मैदान, स्टेडियम निर्माण आदि के लिए 1160.00 लाख का प्रावधान किया गया है। विभिन्न वार्डो में सुगम यातायात व्यवस्था को प्राथमिकता देने के लिए सीमेंट सड़क निर्माण के लिए 600.00 लाख तथा डामरीकृत सड़क निर्माण के लिए 800.00 लाख डब्ल्यू बीएम एवं कच्ची सड़क निर्माण के लिए 200.00 लाख पुल एवं कलवर्ट निर्माण के लिए 300.00 लाख, प्रवेश द्वार के लिए 300.00 लाख, तथा खुली नाली निर्माण के लिए 400.00 लाख का बजट में प्रावधान किया गया है। इसके अलावा भी बजट में पेयजल, सर्वजनिक प्रकाश व्यवस्था, आदि के लिए बजट में प्रावधान किया गया है। वित्तिय वर्ष 2022-23 के बजट अंतर्गत तैयार की गई विस्तृत कार्य योजनाः- तैयार किये गये बजट में शहर के समंग्र विकास एवं कमजोर वर्ग के उत्थान हेतु विस्तृत कार्य योजना तैयार किया गया है जो निम्नानुसार है।बजट में कलेक्ट्रेट के बगल में तालाब का सौदर्यीकरण एवं पर्यटक स्थल के रूप में विकास, ट्रामा सेंटर के सामने रिक्त भूमि पर शहर के लिए सर्व सुविधायुक्त आधुनिक सिविक सेंटर जिसके अंतर्गत स्पोर्ट कम्पलैक्स, स्वीमिंग पूल, आडिटोरियम 1000 सीटर, कैफेटेरिया, पार्किंग, पार्क हाट, बाजार एवं कमर्षियल कम्पलैक्स का निर्माण, सर्व सुविधायुक्त नवीन बस स्टैड, नगर निगम की सीमा में प्रवेश द्वार, फुट ओवर ब्रिज, शहरी आजीविका केन्द्र की स्थापना, बैढ़न में स्ट्रीट फूड मार्केट की स्थापना,तीन नए हार्कस जोन का निर्माण, बैढ़न से नवजीवन विहार मुख्य मार्ग से जोड़ने वाली प्रमुख सड़को का उन्नयन, पार्किग स्थलो का निर्माण, सोलर लाईट एवं सभी स्ट्रीट लाईटो में आटोमैटिक स्वीच,पार्किग स्थलो का निर्माण,चौराहो मे ट्रेफिक सिग्नल एंव चौराहो का विकास करना, नाली, सीसी रोड, डामरीकरण, स्वच्छता, विद्युत के कार्यो को प्राथमिकता से स्थान दिया गया।कलेक्टर एवं प्रशासक नगर निगम श्री मीना के द्वारा बजट में किये प्रावधानो के प्रत्येक विंदु पर गहनता पूर्वक चर्चा करने के पश्चात निगम द्वारा तैयार किये गये आगामी वित्तिय वर्ष 2022-23 के अनुमनित आय एवं व्यय के बजट को स्वीकृती प्रदान की गई। बजट बैठक में नगर निगम के अधीक्षण यंत्री व्ही.पी उपाध्याय, उपायुक्त आर.पी बैस, सहायक यंत्री रत्नाकर गजभिये, जेपी त्रिपाठी, दिनेश तिवारी, एस.एन द्विवेदी, उपयंत्री पी.के सिंह, अनुज सिंह, अमिताभ यादव, सीटी मैनेजर संदीप मिश्रा उपस्थित रहे।