एनसीएल ने एक दिन के अधिभार हटाव के आंकड़े में फिर लगाई छलांग    गुरुवार को 15.39 लाख क्यूबिक मीटर अधिभार हटाकर बनाया नया रिकॉर्ड सिंगरौली की आवाज भारत सरकार की मिनीरत्न कंपनी, नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) ने गुरुवार को एक दिन के अधिभार हटाव के आंकड़े में एक नई छलांग लगाई है। एनसीएल ने गत दिवस को 15.39 लाख क्यूबिक मीटर अधिभार हटाकर एक नया इतिहास बनाया है, जो कंपनी की स्थापना काल से अब तक का एक दिन का रिकॉर्ड अधिभार हटाव है। टीम एनसीएल ने इस वित्तीय वर्ष में 'एक दिवसीय अधिभार हटाव में कई रिकॉर्ड स्थापित किए हैं। एनसीएल ने हाल ही में 13 जनवरी को 14.90 लाख क्यूबिक मीटरअधिभार हटाव रिकॉर्ड बनाया था । कंपनी के इस शानदार प्रदर्शन पर सीएमडी एनसीएल श्री भोला सिंह एवं कंपनी के कार्यकारी निदेशकमंडल ने एनसीएल कर्मियों को बधाई दी है एवं वित्त वर्ष 2022-23 में सुरक्षा व सतत खनन प्राथमिकता देते हुए निर्धारित लक्ष्य पूरा करने का आह्वान किया है । एनसीएल को वित्तीय वर्ष 2022-23 में 410 मिलियन क्यूबिक मीटर अधिभार हटाने का भारी लक्ष्य दिया गया है। जिसका पीछा करते हुए चालू वित्त वर्ष में एनसीएल ने 26.22% की शानदार वृद्धि के साथ अभी तक 354.06 मिलियन क्यूबिक मीटर अधिभार हटा लिया है। अधिभार हटाव में भारी बढ़त, एनसीएल को आने वाले समय में योजनाबद्ध तरीके से कोयला उत्पादन करने में मदद करेगी । कोल इंडिया की अग्रणी अनुषंगी, एनसीएल कोयला उत्पादन एवं प्रेषण में भी शानदार प्रदर्शन कर रही है और वित्तीय वर्ष 2022-23 में गुरुवार तक उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए 11.38% की भारी वार्षिक वृद्धि के साथ 104.18 मिलियन टन कोयला उत्पादन कर लिया है। अपने कोयला ग्राहकों को भरपूर आपूर्ति करते हुए एनसीएल ने अभी तक 8.34% वार्षिक वृद्धि के साथ रिकॉर्ड कोयला प्रेषण किया है और कंपनी ने बिजली घरों सहित सभी ग्राहकों को 107.45 मिलियन टन कोयला प्रेषित किया है। एनसीएल अपने प्रेषण का अधिकांश हिस्सा बिजली घरों को देती है। अपने प्रेषित कोयले में से एनसीएल ने गत दिवस तक 96.81 मिलियन टन कोयला बिजली घरों को भेजा है। एनसीएल को चालू वित्त वर्ष 2022-23 में एनसीएल को 122 मिलियन टन कोयला उत्पादन व प्रेषण के लक्ष्य दिये गए हैं। उत्पादन व प्रेषण के साथ एनसीएल नवाचारी व सतत खनन को भी बढ़ावा दे रही है एवं इस दिशा में कई कदम उठा रही है ।